Menu

राजनीति
गठबंधन टूटने के बाद पहली बार जम्‍मू में शाह, बोले- सरकार मायने नहीं रखती

nobanner

बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह शनिवार को जम्मू में एक रैली को संबोधित करने पहुंचे. जम्मू-कश्मीर में बीजेपी और पीडीपी का गठबंधन समाप्त होने के बाद अमित शाह की यह पहली रैली है. इस रैली में अमित शाह ने कहा, जम्‍मू कश्‍मीर से हमारा दिल और खून का रिश्‍ता है. श्‍यामा प्रसाद मुखर्जी ने यहां बलिदान दिया है. बता दें, पार्टी के संस्थापक अध्यक्ष श्यामा प्रसाद मुखर्जी के बलिदान दिवस के मौके पर अमित शाह जम्मू पहुंचे हैं.

अमित शाह ने कहा, ‘पहले जम्‍मू कश्‍मीर आने के लिए परमिट की जरूरत पड़ती थी. उस वक्‍त जम्‍मू कश्‍मीर में तिरंगा नहीं पहरा सकते थे. यहां अलग प्रधानमंत्री बैठता था. श्‍यामा प्रसाद मुखर्जी ने इस मुद्दे को उठाया था. उन्‍होंने जब तिरंगा फहराने का प्रयास किया तो उन्‍हें गिरफ्तार कर लिया गया और जम्‍मू की जेल में उनकी हत्‍या कर दी गई. उनके बलिदान को कोई नहीं भूल सकता है. शाह ने कहा, जम्‍मू कश्‍मीर से हमारा दिल और खून का रिश्‍ता है. क्‍योंकि हमारे पूर्वजों ने इसे खून से सींचा है.’