Menu

दुनिया
पोम्पिओ और इमरान के बीच आतंक पर बातचीत को लेकर अमेरिका-पाक में विवाद

nobanner

अमेरिका और पाकिस्तान के बीच आतंकवाद पर बातचीत को लेकर ठन गई है. अमेरिका के विदेश मंत्री माइक पोम्पिओ की पाकिस्तान के नए पीएम इमरान ख़ान से फोन पर बातचती हुई. इसे लेकर एक तरफ जहां अमेरिका का कहना है कि दोनों के बीच आतंकवाद पर बातचीत हुई, वहीं पाकिस्तान का कहना है कि आतंकवाद बातचीत का हिस्सा नहीं था. पाकिस्तान ने ज़ोर देते हुए कहा है कि बातचीत में दोनों देशों के बीच पाकिस्तानी ज़मीन पर आतंक होने की कोई बात ही नहीं हुई है.
अमेरिका ने कहा कि आंतक पर हुई बातचीत
अमेरिका में जब पोम्पिओ और ख़ान के बीच बातचीत की पूरी जानकारी प्रेस के साथ साझा की गई तब ये कहा गया कि क्या ख़ान से आतंक पर भी बातचीत हुई है. इसके जवाब में यूएस स्टेट डिपार्टमेंट की प्रवक्ता ने कहा कि हां, दोनों की बीच आंतक पर बातचीत हुई है जिसमें अमेरिका ने पाकिस्तान की उस भूमिका की सरहान की है जो उसने आतंक के खिलाफ और अफगानिस्तान के साथ शांति वार्ता में निभाई है.
पाकिस्तान ने नकारी आतंक पर बातचीत की बात
वहीं, पाकिस्तान ने दोनों के बीच आतंक पर हुई बातचीत से साफ इंकार किया है और कहा है कि पाकिस्तान को अमेरिका की उस जानकारी से आपत्ति है जो पोम्पिओ और ख़ान की बातचीत को लेकर साझा की गई है. पाक के विदेश मंत्री के प्रवक्ता मोहम्मद फैसल ने कहा कि बातचीत में पाकिस्तानी ज़मीन पर आतंक होने की कोई बात नहीं कही गई है. इसे तुरंत ठीक किया जाना चाहिए. पाक के इस बयान के बाद भी अमेरिका इस बात पर कायम है कि दोनों देशों में आतंक पर बात हुई है.

सिंतबर के पहले हफ्ते में पाक में होंगे पोम्पिओ
आपको बता दें कि अमेरिकी विदेश मंत्री पोम्पिओ नवनिर्वाचित पीएम ख़ान से मुलाकात करने पाकिस्तान जा सकते हैं. उनका ये दौरा सितंबर के पहले हफ्ते में होने की संभावना है. इस दौरान दोनों देशों के बीच रिश्तों में फिर से गर्मजोशी लाने पर बात होने की संभावना है जिसके तहत अमेरिका पाकिस्तान से अफगानिस्तान शांति वार्ता को आगे बढ़ाने में उसकी मदद मांग सकता है.
त्वरित 24 अगस्त 2018: देखिए देश-दुनिया की सारी बड़ी खबरें