Menu

खेल
20 साल के नीरज चोपड़ा ने जकार्ता में रचा इतिहास, भारत को दिलाया 8वां गोल्ड

nobanner

भारत के स्टार भाला फेंक एथलीट नीरज चोपड़ा ने एशियाई खेलों में भारत को 8वां गोल्ड मेडल दिलाया. खेलों के 9वें दिन उन्होंने 88.06  मीटर भाला फेंक कर इतिहास रचा. एशियाई खेलों में इससे पहले भारत को कभी भी स्वर्ण पदक हासिल नहीं हुआ था. आखिरी बार 1982 दिल्ली एशियाई खेलों में भारत के गुरतेज सिंह ने ब्रॉन्ज मेडल जीता था. गौरतलब है कि नीरज चोपड़ा ने गोल्ड कोस्ट कॉमनवेल्थ गेम्स में भी गोल्ड मेडल जीता था. तब उन्होंने 86.47 मीटर भाला फेंका था.

नीरज ने इस तरह जकार्ता में सर्वश्रेष्ठ थ्रो 88.06 मीटर की फेंकी और स्वर्ण पदक पर कब्जा जमाया. नीरज ने यह सोने का तमगा छह में से दो प्रयासों में विफलता के बाद भी हासिल किया.

इस मुकाबले में नीरज ने पूरे जोश और ताकत के  साथ भाला फेंका. पहली बार में उन्होंने 83.46 मीटर दूर भाला फेंका. दूसरी बार में वो फाउल कर गए.  तीसरे प्रयास में उन्होंने 88.06 मीटर दूर भाला फेंका. चौथी कोशिश में 83.25 मीटर, पांचवी में 86.63 मीटर और उनका छठा प्रयास फाउल गया. रजत पदक जीतने वाले चीन के किझेन लियू 82.22 मीटर की थ्रो फेंक कर दूसरे स्थान पर, तो वहीं पाकिस्तान के नदीम अरशद ने 80.75 की सर्वश्रेष्ठ थ्रो फेंक कांस्य पदक हासिल किया.