Menu

देश
LoC के पास गश्त के दौरान खाई में गिरने से मेजर की मौत, सेना ने दी श्रद्धांजलि

nobanner

श्रीनगर के जम्मू-कश्मीर में सीमा के पास रविवार को नियमित गश्त के दौरान मेजर विकास सिंह खाई में गिर गए. इसके बाद मेजर की मौत हो गई. सेना ने उन्हें सोमवार को श्रद्धांजलि दी.

सेना के प्रवक्ता ने बताया कि कुपवाड़ा के माछिल सेक्टर में यह हादसा रविवार की सुबह हुआ. आरआर के मेजर विकास सिंह कुपवाड़ा के माछिल सेक्टर में तैनात थे. रविवार सुबह कुपवाड़ा में सेना की तरफ से सर्च ऑपरेशन के दौरान बारुदी सुरंग लगाते समय पैर फिसल जाने से मेजर विकास सिंह गहरी खाई में गिर गए, मेजर गंभीर रूप से घायल हो गए थे इसके बाद उन्हें इलाज के लिए बादामीबाग छावनी में सेना के 92 बेस अस्पताल में भेजा गया. वहां इलाज के दौरान मेजर ने रविवार को दम तोड़ दिया.

आपको बता दें कि मेजर विकास सिंह उत्तर प्रदेश के गाजीपुर के रहने वाले थे. मेजर विकास साल 2010 में सेना में भर्ती हुए थे. विकास सिंह अपने माता-पिता के इकलौते बेटे थे, सिंह के परिवार में उनकी पत्नी और चार महीने ही एक बच्ची है.

सेना के प्रवक्ता ने बताया कि चीनार कोर कमांडर लेफ्टिनेंट जनरल के जे एस ढिल्लो और सभी रैंक के जवानों ने मेजर सिंह को यहां बदामीबाग छावनी में श्रद्धांजलि दी. प्रवक्ता ने शोक व्यक्त करते हुए कहा कि बहादुर अधिकारी ने कुपवाड़ा जिले में नियंत्रण रेखा के माछिल सेक्टर में 14 अप्रैल को अपनी ड्यूटी के दौरान सर्वोच्च बलिदान दिया.

हाल ही में जम्मू कश्मीर के कुपवाड़ा जिले में नियंत्रण रेखा के पास रविवार को हिमस्खलन की चपेट में आने से सेना का एक जवान शहीद हो गया था. शहीद हवलदार सतवीर सिंह यूपी के मथुरा के रहने वाले थे जो हादसे के वक्त कुपवाड़ा में नियंत्रण रेखा के नजदीक ड्यूटी पर तैनात थे. वहीं, फरवरी में जवाहर सुरंग के पास भी भारी बर्फबारी हुई थी, जिसमें कई पुलिसवाले चपेट में आ गए थे.